बारिश

बारिश

~ 1 ~ बारिश की सोंधी महक ले आई है अपने साथ उफियों की बारिश नन्हीं आदि पुलक-पुलक चुन रही है जैसे — गिर रहे हैं महुए या कि उड़

प्रकृति, बारिश, स्त्री

घनघोर काली घटायें उमड़ घुमड़कर छा रहीं थी बस बारिश होने को थी स्त्रियों ने रोका बारिशों को स्वजनों के नियत स्थलों में पहुँचने तक कभी रोका उसे डोरी पर

ये होती है बारिश

बारिश का होना केवल काले बादलों से बूंदों का गिरना थोड़े ही है बूँदें बारिश नहीं होतीं वे तो बारिश लाती हैं बताऊँ? क्या होते हैं बारिश के मायने… धड़कनों

फुहारों वाली बारिश – नागार्जुन

जाने, किधर से चुपचाप आकर हाथी सामने लेट गए हैं, जाने किधर से चुपचाप आकर हाथी सामने बैठ गए हैं ! पहाड़ों-जैसे अति विशाल आयतनोंवाले पाँच-सात हाथी सामने–बिल्कुल निकट जम गए

instagram: